Use different utensils for non-veg and veg food, keep fruits and vegetables in a separate place for 4 hours after purchasing. | नॉन वेज और वेज भोजन के लिए करें अलग बर्तनों का इस्तेमाल; जानिए ऐसी कई अहम बातें, जिनका ध्यान रखना बेहद जरूरी

  • Hindi News
  • Utility
  • Use Different Utensils For Non veg And Veg Food, Keep Fruits And Vegetables In A Separate Place For 4 Hours After Purchasing.

36 मिनट पहले

  • कॉपी लिंक
  • स्टोर में फूड आइटम खरीदने गए हैं तो केवल उन्हीं चीजों को छुएं जो आप खरीदना चाहते हैं
  • प्याज, अनाज जैसी चीजें जिन्हें धोया नहीं जा सकता, उनका उपयोग 72 घंटे के बाद ही करें

भोजन हमारी सबसे पहली जरूरत है, यह हमारे शरीर के लिए ईंधन की तरह है। अब इस महामारी के दौर में हमें इस काम में भी खासी सावधानी की जरूरत है। फिलहाल खाने की वजह से कोरोनावायरस से संक्रमित होने का कोई मामला सामने नहीं आया है। इसके बावजूद फूड सेफ्टी एंड स्टैंडर्ड्स अथॉरिटी ऑफ इंडिया (FSSAI) के अनुसार, खाने की और पैकिंग की सतह से वायरस फैल सकता है। हालांकि हम इस मुश्किल को भी साफ-सफाई की आदत से टाल सकते हैं।

बाहर खरीददारी करने जाएं तो इन 5बातों का रखें ध्यान-

  1. जरूरी होने पर ही किराना खरीदने के लिए घर से बाहर निकलें। इस दौरान साफ मास्क-ग्लव्ज पहनें और 70% एल्कोहल वाला सैनिटाइजर अपने साथ रखें।
  2. अपना खुद का शॉपिंग बैग साथ लेकर जाएं और पहले से ही शॉपिंग लिस्ट तैयार रखें। कम भीड़ वाले स्टोर्स पर जाने की कोशिश करें।
  3. कोशिश करें कि एक ही स्टोर से सारा सामान खरीद लें। अपनी जरूरत के हिसाब से ही खरीदी करें। जरूरत से ज्यादा खरीदी करने से सामान की कमी होगी और गैर जरूरी मांग बढ़ेगी।
  4. कम भीड़ वाले वक्त में ही शॉपिंग करने जाएं। अगर बीमार महसूस कर रहे हैं या किसी तरह के लक्षण नजर आ रहे हैं तो बाहर न निकलें।
  5. अपने साथ मोबाइल, क्रेडिट/डेबिट कार्ड साथ रखें, ताकि आप कैशलेस पेमेंट कर पाएं। महामारी के दौरान नगदी के बजाए डिजिटल पेमेंट को प्राथमिकता दें।

दुकान के अंदर भी पांच सावधानियों का ध्यान रखें-

  1. बिल काउंटर, दुकान के अंदर जाने की बारी या सामान उठाने के दौरान सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करें।
  2. केवल उन्हीं प्रोडक्ट्स को छुएं जो आप खरीदने वाले हैं। हैंडल, काउंटर जैसी लगातार छूने में आने वाली सतहों को टच करने से बचें। अगर छू लिया है तो ध्यान से हाथों को सैनिटाइज करें।
  3. अपने चेहरे, आंखों और नाक को न छुएं। अगर बहुत जरूरी है तो साफ टिश्यू पेपर का इस्तेमाल करें और उपयोग के तुरंत बाद डिस्पोज कर दें।
  4. स्टोर के अंदर बास्केट या कार्ट के हैंडल को सैनिटाइजर करें। अगर ऐसा संभव नहीं है तो इस्तेमाल के बाद अपने हाथों को सैनिटाइज करें।
  5. खरीदी गई चीजों को बाजार से लाते वक्त अपने शरीर से दूर रखें। सामान को अपने शॉपिंग बैग या बास्केट में रखें।

घर पहुंचने के बाद जूतों को बाहर रखें और मोबाइल फोन सैनिटाइज करें

  • बाजार से लौटने के बाद भी घर में सावधानियां रखना बहुत जरूरी हो जाता है। सबसे पहले अपने जूतों को घर के अंदर जाने से पहले बाहर ही उतार दें और तुरंत हाथों को साफ करें। चाबियों और मोबाइल फोन को सैनिटाइज करें।
  • बाजार से खरीदे हुए फूड पैकेट्स को अल्कोहल सॉल्यूशन या साबुन और साफ पानी से साफ करें। अगर पैकेट ने किसी सतह को छुआ है तो उस सतह को भी सैनिटाइजिंग वाइप या सॉल्यूशन की मदद से साफ करें।

कॉन्टैक्ट लैस हो फूड डिलिवरी

  • अपने घर से दूर दूसरे शहरों में रहने वाले लोगों को कई बार बाहर से खाना ऑर्डर करना जरूरी हो जाता है। ऐसे में अगर आप फूड ऑर्डर कर रहे हैं तो हैंडलिंग को लेकर सावधानी रखें, क्योंकि पैकेजिंग की सतह पर कोरोनावायरस हो सकता है।
  • ऑर्डर रिसीव करने दौरान हो सके तो कॉन्टैक्ट लैस डिलीवरी लें। इसमें डिलीवरी बॉय पैकेट को गेट पर रखकर आपको फोन पर सूचित कर देगा। अगर ऐसा मुमकिन नहीं है तो कम से कम 1 मीटर की दूरी बनाकर रखें और डिजिटल पेमेंट को प्राथमिकता दें।
  • रेस्टोरेंट्स और डिलीवरी सर्विसेज अपनी जगहों पर साफ-सफाई का खासा ध्यान रख रहे हैं, लेकिन इसके बाद भी सुरक्षा को लेकर हमारा सतर्क रहना बहुत जरूरी है।

वेज-नॉनवेज के लिए अलग-अलग चाकू और बर्तनों का इस्तेमाल करें
खाना बनाने के दौरान भी हमें अपनी और बर्तनों की साफ-सफाई का खासा ख्याल रखना चाहिए। इससे संक्रमण और दूसरी खाने से संबंधित परेशानियों को कम करने में मदद मिलती है। पकाने के दौरान सभी खाने की चीजों को ठीक तरह से कवर कर रखना चाहिए। इसके अलावा वेज-नॉनवेज खाने के लिए अलग-अलग बर्तनों और दूसरी चीजों का इस्तेमाल करें।

  • अगर खाना बनाने या सर्व करने वाले किसी व्यक्ति को फ्लू जैसे लक्षण नजर आ रहे हैं तो उन्हें काम करने से बचना चाहिए। खाना बनाने के दौरान साफ-सफाई का सबसे ज्यादा ख्याल रखें।
  • खाना बनाने के लिए साफ चाकू, चॉपिंग बोर्ड्स, प्लेट्स आदि का इस्तेमाल करें। वेज-नॉनवेज को पकाने या रखने के लिए भी अलग-अलग बर्तनों का इस्तेमाल करें।
  • अगर ऐसा मुमकिन नहीं है तो वेज-नॉनवेज पर उपयोग किए गए चाकू और बर्तनों को फल और सब्जियों पर इस्तेमाल से पहले धो लें।
  • नॉनवेज से वेज भोजन की तरफ शिफ्ट करने से पहले भी अपने हाथों को कम से कम 40-60 सेकंड्स तक साबुन और पानी से धोएं।
  • फ्रोजन फूड को रेफ्रिजरेटर में 40 सेल्सियस से कम या पैकेट में रहते हुए बहते ठंडे पानी में डिफ्रॉस्ट करना चाहिए। मसालेदार बनाई जाने वाली चीजों को भी फ्रिज में रखना चाहिए।
  • अगर सलाद बना रहे हैं तो सब्जियों और फलों को उपयोग से पहले पानी में ठीक तरह से धो लें। आप इसके लिए 50ppm क्लोरीन का भी इस्तेमाल कर सकते हैं।
  • खाना पकने के दौरान टेस्ट जानने के लिए उंगलियों या हाथ का इस्तेमाल करने से बचें। अगर चम्मच से टेस्ट ले रहे हैं तो ध्यान रखें कि उनका दोबारा उपयोग न हो। नमक, कैचअप आदि के कंटेनर्स को रोज साफ करें।
  • तेल को दोबारा गर्म न करें और इसके उपयोग से भी बचें। हर बार ताजा तेल इस्तेमाल करें। महामारी के दौरान खाना, चम्मच, प्लेट जैसी चीजों को शेयर करने से बचें। खाना परोसने और खाने से पहले 40-60 सेकंड तक हाथों को ठीक तरह से धोएं।

खास भोजन और न्यूट्रिएंट्स हमारे इम्यून सिस्टम और अच्छे स्वास्थ्य के लिए जरूरी हैं
इम्यून सिस्टम को बेहतर काम करने के लिए संतुलन और सामंजस्य की जरूरत होती है। बेहतर न्यूट्रिएंट्स हमारे इम्यून सिस्टम (इन-नेट और एडोप्टिव इम्युनिटी) को मजबूत करते हैं। कोई भी एक खाना, मसाले या हर्ब बीमारी का इलाज नहीं करते हैं। ऐसे में भोजन में खास तरह के न्यूट्रिएंट्स को शामिल करने अच्छा उपाय है। विटामिन A, B, C, D, E मिनरल्स जैसे- जिंक, सेलेनियम, आयरन, कॉपर, अमीनो एसिड, ओमेगा 3 फैटी एसिड हमारे इम्यून सिस्टम के लिए जरूरी न्यूट्रिएंट्स हैं।

0

Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *