Kisan Credit Card ; KCC ; government scheme ; You have to pay back the loan taken on the Kisan Credit Card by August 31, you will have to pay more interest for not depositing | 31 अगस्त तक वापस करना है किसान क्रेडिट कार्ड पर लिया कर्ज, नहीं जमा करने पर देना होगा ज्यादा ब्याज

  • Hindi News
  • Utility
  • Kisan Credit Card ; KCC ; Government Scheme ; You Have To Pay Back The Loan Taken On The Kisan Credit Card By August 31, You Will Have To Pay More Interest For Not Depositing

नई दिल्ली5 मिनट पहले

  • कॉपी लिंक

KCC केंद्र सरकार की योजना है, जिसे साल 1998 में शुरू किया गया था

  • 31 अगस्त तक पैसे नहीं लौटाए तो उन्हें 4 की जगह 7 फीसदी ब्याज देना पड़ेगा
  • KCC के तहत 5 लाख रुपए तक का लोन लिया जा सकता है

किसान क्रेडिट कार्ड (KCC) धारकोंं को बैंक से लिए गए लोन को 31 अगस्त तक वापस करना है। अगर KCC धारकों ने 31 अगस्त तक पैसे नहीं लौटाए तो उन्हें 4 की जगह 7 फीसदी ब्याज देना पड़ेगा। इसीलिए अगर आपने भी KCC से कर्ज ले रखा है तो इसे 31 अगस्त तक लौटा दें।

कितना देना होगा ब्याज?
खेती-किसानी के लिए ब्याज दर वैसे तो 9 फीसदी है। लेकिन सरकार इसमें 2 प्रतिशत की सब्सिडी देती है। इस तरह यह 7 फीसदी पड़ता है। लेकिन समय पर लौटा देने पर 3 फीसदी और छूट मिल जाती है। इस तरह किसानों के लिए ब्याज दर 4 फीसदी रह जाती है।

क्‍या है किसान क्रेडिट कार्ड?
किसान क्रेडिट कार्ड बैंक जारी करते हैं। KCC केंद्र सरकार की योजना है, जिसे साल 1998 में शुरू किया गया था। इस KCC की शुरुआत नाबार्ड और रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया ने मिलकर की थी। फिलहाल देश के करीब 7 करोड़ किसानों के पास किसान कार्ड है। इस किसान कार्ड के जरिए किसानों को एक डेबिट कार्ड दिया जाता है, जिसकी मदद से वो अपनी जरूरत के मुताबिक अपने खाते से पैसे निकाल सकते हैं।

इसके तहत मिलता है 5 लाख रुपए तक का लोन
इसके जरिए किसान 5 लाख रुपए तक का लोन ले सकते हैं। इस योजना को शुरू करने का मकसद किसानों को खेती से जुड़ी चीजों जैसे-खाद, बीज, कीटनाशक इत्यादि की खरीद करने के लिए लिए कर्ज उपलब्ध कराना है। KCC की सुविधा पशुपालन और मछलीपालन के लिए भी उपलब्ध कराई जाती है।

आसान है KCC बनवाना
आप किसी भी बैंक से अपना KCC बनवा सकते हैं इसके लिए सिर्फ 3 डॉक्यूमेंट ही लिए जाएंगे। पहला यह कि जो व्यक्ति अप्लीकेशन दे रहा है वो किसान है या नहीं इसका प्रमाण। इसके लिए बैंक उसके खेती के कागजात देखें और उसकी कॉपी लें। दूसरा निवास प्रमाण पत्र और तीसरा आवेदक का शपथ पत्र कि उसका किसी और बैंक में लोन तो बकाया नहीं है। सरकार ने बैंकों को निर्देश दिए हैं कि आवेदन के 15वें दिन तक यानी दो सप्ताह के अंदर KCC बन जाए।

0

Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *