Google Verified Calls is here to take on Truecaller, to first roll out in India and 4 other countries | भारतीय यूजर्स के लिए गूगल का वेरिफाईड कॉल्स फीचर; यह बताएगा कि आपको कौन किस काम से कर रहा है फोन

  • Hindi News
  • Business
  • Google Verified Calls Is Here To Take On Truecaller, To First Roll Out In India And 4 Other Countries

नई दिल्ली20 मिनट पहले

  • कॉपी लिंक

गूगल के इस फीचर का मकसद फ्रॉड फोन काॅल्स पर लगाम लगाना है।

  • गूगल वेरिफाईड कॉल्स फीचर को रोलआउट करेगा
  • भारत समेत दुनियाभर में फ्रॉड कॉल्स बड़ी समस्या बन गई है

अब आपके पास किसका फोन आ रहा है यह आपको गूगल बताएगा। जी हां, गूगल अब यूजर्स को बताएगा कि कौन कॉल कर रहा है? गूगल न सिर्फ काॅल करने वाले व्यक्ति का नाम बताएगा बल्कि कॉल करने की वजह और कॉलर का लोगो भी दिखाएगा। दरअसल, गूगल वेरिफाईड कॉल्स फीचर पर काम कर रहा है।

भारतीय यूजर्स को मिलेगी सबसे पहले यह सुविधा

खबर के मुताबिक, गूगल द्वारा स्वीडिश प्रमुख Truecaller के लिए बोली लगाई गई है। जिसके बाद गूगल इस ऐप को नए तरीके से पेश करेगी। गूगल का यह फीचर पहले चरण में भारतीय यूजर्स के लिए रोलआउट किया जाएगा। साथ ही इसे अमेरिका, मैक्सिको, ब्राजील, स्पेन में भी पायलट प्रोजेक्ट के तहत पेश किया जाएगा।

फ्रॉड फोन काॅल्स पर लगेगा लगाम

गूगल के इस फीचर का मकसद फ्रॉड फोन काॅल पर लगाम लगाना है। बता दें कि इस समय दुनियाभर में फ्रॉड कॉल्स एक बड़ी समस्या बन गई है। ऐसे में गूगल का वेरिफाइड कॉल्स फीचर रोलआउट के बाद इस तरह कि समस्याओं पर लगाम लगाने में मदद करेगी। साथ ही यूजर्स को इनसे बचाया जा सकेगा।

अनजान मैसेज को लेकर गूगल अलर्ट करता है

पिछले साल ही गूगल ने अपने यूजर्स को एसएमएस री-वेरिफाइ फीचर दिया था। जिसके जरिए अनजान मैसेज को वेरिफाई किया जा सकता है। यूएस और ब्राजील में एक स्टडी में पाया गया कि वेरिफाइड एसएमएस ने ब्रांड्स के प्रति कंज्यूमर का विश्वास बढ़ाया है। बता दें कि गूगल के पास Neustar, Five9, Vonage, Aspect, Bandwidth, Prestus, Telecall, और JustCall सहित भागीदार हैं, जिसका प्रयोग कॉल्स वेरिफाई के लिए किया जाता है।

0

Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *