Evolet created 100 kg weight e-moped, named 'Dhanno' on Hemamalini's mare in 'Sholay' | इवोलेट ने बनाई 100 kg वजन उठाने वाली कमर्शियल ई-बाइक, हेमामालिनी की घोड़ी पर रखा नाम 'धन्नो'

Evolet created 100 kg weight e-moped, named ‘Dhanno’ on Hemamalini’s mare in ‘Sholay’ | इवोलेट ने बनाई 100 kg वजन उठाने वाली कमर्शियल ई-बाइक, हेमामालिनी की घोड़ी पर रखा नाम ‘धन्नो’

  • हरियाणा की कंपनी इवोलेट ने बनाई ई-बाइक, फिल्म ‘शोले’ से लिया इसका नाम धन्नो
  • इवोलेट की एमडी व सीईओ प्रेरणा चतुर्वेदी ने कहा-1000 करोड़ के टर्नओवर की उम्मीद

नरेंद्र जिझोतिया

Feb 07, 2020, 08:46 PM IST

ग्रेटर नोएडा में चल रही ऑटो एक्सपो 2020 में इलेक्ट्रिक व्हीकल खूब नजर आ रहे हैं। बात लग्जरी कार की हो या फिर स्कूटर या बाइक की, लगभग सभी गाड़ियों का इलेक्ट्रिक अवतार देखने को मिल रहा है। इन कंपनियों में एक नाम हरियाणा के बिलासपुर  की कंपनी इवोलेट का भी है। इवोलेट ने धन्नो नाम की कमर्शियल ई-बाइक पेश की है। ये एक्सपो में आकर्षण का केंद्र भी बनी है।

इवोलेट की एमडी व सीईओ प्रेरणा चतुर्वेदी ने कहा कि हम सालाना 1 लाख ई-स्कूटर बेचने की कोशिश में हैं। इसके अलावा हम पैसेंजर व कार्गो ट्रांसपोर्टेशन में ई थ्री व्हीलर्स के जरिए कमर्शियल व्हीकल सेगमेंट में भी आ रहे हैं। इन योजनाओं से हमें अगले साल के आखिर तक 1000 करोड़ रुपये के टर्नओवर की उम्मीद है।

‘शोले’ फिल्म से लिया गया है धन्नो नाम

फिल्म ‘शोले’ में बंसती तांगेवाली यानी हेमामालिनी की घोड़ी का नाम धन्नो था। धन्नो बहुत सारी सवाली और वजन उठाकर तेजी से भाग सकती थी। बस यही सोचकर इसका नाम धन्नो रख दिया गया। इस ई-बाइक की खास बात है कि आप इस पर बहुत सारा सामान लेकर आसानी से ट्रैवल कर सकते हैं।

सामान के लिए मिलेगी स्पेशल ट्रे

धन्नो की बैक सीट को कंपनी ने इस तरह डिजाइन किया है कि इसे खोलने के बाद एक बड़ी ट्रे बन जाती है। इस ट्रे पर ज्यादा सामान रखा जा सकता है। वहीं, फ्रंट पर बड़ा सा लेग रूम दिया है। गाड़ी के सामने एक ग्रिल डिजाइन वाली बड़ी सी ट्रे लगी है। जिसमें फल, सब्जी के साथ किराने का दूसरा सामान भी रखा जा सकता है। कुल मिलाकर धन्नो से एक बार में लगभग 100 किलो तक का सामान लाया जा सकता है।

सिंगल चार्ज में 80 किमी तक चलेगी

धन्नो में 72 वोल्ट की बैटरी दी है, जो 3 से 4 घंटे में फुल चार्ज हो जाती है। सिंगल चार्ज के बाद इसे 80 किलोमीटर तक दौड़ाया जा सकता है। धन्नो की टॉप स्पीड 45 किमी प्रति घंटा है। इसका लुक किसी क्रूजर बाइक के जैसा है। वहीं, इसे चलाना भी बेहद आसान है।

पहली बार किसी ई- बाइक 3 सस्पेंशन

इस ई-बाइक को पूरी तरह कमर्शियल इस्तेमाल के लिए बनाया गया है। इसी वजह से बैक साइज में 3 सस्पेंशन दिए हैं। ये पहला मौका है जब किसी कंपनी ने किसी बाइक में इतने सस्पेंशन साथ दिए हों। इसके अवाला, इसमें आगे और पीछे एलईडी लाइट्स दी हैं, जो बैटरी को बचाने का काम करती है। इसमें LEC स्क्रीन वाला इंस्ट्रूमेंट क्लस्टर दिया है।

कार जैसी स्मार्ट-चाबी मिलेगी

धन्नो की एक खूबी इसकी स्मार्ट की भी है। कंपनी ने इसमें लॉक और अनलॉकिंग सिस्टम दिया है। यानी गाड़ी को अनॉक करके आप बिना चाबी लगाए ट्रैवल कर सकते हैं। सर्चिंग के लिए इसमें अलार्म भी मिलेगा। फिलहाल कंपनी ने इसकी कीमत का ऐलान नहीं किया है। बताया जा रहा है ऑटो एक्सपो इवेंट के दौरान भी इसकी कीमत सामने आ जाएगी।

Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *