कार देखो के को फाउंडर अमित जैन कहते हैं कि प्री, मिड और पोस्ट लॉकडाउन में कार की ट्रैफिक पर सभी सेगमेंट में असर दिखा है

Consumer News In Hindi : Car buying trend seen, 99% of old customers and 77% of customers are searching for new cars | कार खरीदने के ट्रेंड में दिखी तेजी, 99% ग्राहक पुरानी और 77% ग्राहक नई कारों की खरीदी के लिए कर रहे हैं सर्च 

  • लॉकडाउन के बाद ग्राहक सभी सेगमेंट की कार में दिलचस्पी दिखा रहे हैं
  • कार की रिकवरी रेट एक से पांच लाख रुपए के बीच वाली पुरानी कारों के लिए है

दैनिक भास्कर

Jun 12, 2020, 03:27 PM IST

नई दिल्ली. कोरोनावायरस का संक्रमण तेजी से फैल रहा है, दिन पर दिन मामले बढ़ते ही जा रहे हैं। लाॅकडाउन में छूट दी गई है और अनलॉक-1 शुरू हो चुका है। ऐसे में कार के शौकीन फिर बाजार में वापस आ रहे हैं। खबर है कि पुरानी कारों के 99 प्रतिशत ग्राहक वापस बाजार में आ चुके हैं। जबकि 77 प्रतिशत ग्राहक अपनी पसंद के लिए नई कार को सर्च कर रहे हैं। 

कार देखो डॉटकॉम (Cardekho.com) के अनुसार, कार सेगमेंट में ग्राहक ट्रैफिक में अच्छी रिकवरी दिख रही है। पुरानी कारों में 77 प्रतिशत कस्टमर इस समय कार सर्च कर रहे हैं। कंपनी की एक स्टडी में यह पता चला है। इसके अनुसार लॉकडाउन खत्म होने के बाद ग्राहक सभी सेगमेंट की कार में दिलचस्पी दिखा रहे हैं। इसमें हचबैक से लेकर कम बजट वाली कारों के लिए ज्यादा ग्राहक आ रहे हैं।

ऑरेंज और ग्रीन जोन से नई कार के लिए ट्रैफिक

स्टडी के मुताबिक, ऑरेंज और ग्रीन जोन से नई कार के लिए ट्रैफिक आ रही है। इसमें 84 प्रतिशत की रिकवरी इन जोन से दिख रही है। हालांकि रेड जोन से यह रिकवरी 58 प्रतिशत की दिख रही है। इससे पता चल रहा है कि कस्टमर सेंटीमेंट में सुधार हो रहा है। हालांकि ग्रीन और ऑरेंज जोन में इसमें मजबूत सुधार दिखा है।

सेडान कार में 15-20 लाख रुपए की रेंज पर सबसे ज्यादा सर्च

रिपोर्ट के मुताबिक कार की रिकवरी रेट एक से पांच लाख रुपए के बीच वाली पुरानी कारों के लिए है। इसी में सबसे ज्यादा मांग आ रही है। जबकि एसयूवी सेगमेंट में 5 से 15 लाख रुपए की कार की ज्यादा हिस्सेदारी है। सेडान कार में 15-20 लाख रुपए की रेंज को सबसे ज्यादा सर्च किया जा रहा है। इस अवधि में 10 लाख रुपए वाली एमयूवी को ज्यादा सर्च किया जा रहा  है। प्रीमियम सेगमेंट की बात करें तो इसका शेयर काफी कम है। इसका वोल्युम 10 प्रतिशत है। इसमें रिकवरी रेट सबसे कम 50 प्रतिशत है। 

मिड सेगमेंट में होंडा 7 प्रतिशत के साथ सबसे टॉप पर है

स्टडी के मुताबिक मारुति और टाटा की कारों को ग्राहक सबसे ज्यादा सर्च कर रहे हैं। मारुति का शेयर नई कारों के ट्रैफिक में जहां 23 प्रतिशत है। वहीं, मिड सेगमेंट में होंडा 7 प्रतिशत के साथ सबसे टॉप पर है। बाकी सेगमेंट का 4-5 प्रतिशत है। यह स्टडी 17 फरवरी से 17 मार्च के बीच की गई थी। जबकि मार्च मध्य से अप्रैल मध्य तक दूसरी स्टडी की गई थी। उसके बाद तीसरी स्टडी 12 मई से 28 मई के बीच की गई। इस तरह तीन बार के स्टडी से ग्राहकों के इस रुझान का पता लगाया गया है। 

पुरानी कारों के लिए सबसे ज्यादा ट्रैफिक महाराष्ट्र से

स्टडी के मुताबिक यह भी देखा गया कि ऑरेंज जोन से पुरानी कारों के लिए सबसे ज्यादा सर्च आ रहा है। इसमें भी कर्नाटक टॉप पर है। रेड जोन में पुरानी कारों के लिए सबसे ज्यादा ट्रैफिक महाराष्ट्र से आ रहा है। कार देखो के को फाउंडर अमित जैन कहते हैं कि प्री, मिड और पोस्ट लॉकडाउन में कार की ट्रैफिक पर सभी सेगमेंट में असर दिखा है। नई कार और पुरानी कारों का बिजनेस अब थोड़ा-थोड़ा सुधर रहा है।

Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *